अमरेन्द्र ने गडकरी को पत्र लिख राष्ट्रीय मार्ग 344-ए का नाम माता गुजरी मार्ग रखने का मामला उठाया

  • अमरेन्द्र ने गडकरी को पत्र लिख राष्ट्रीय मार्ग 344-ए का नाम माता गुजरी मार्ग रखने का मामला उठाया
You Are HereJalandhar
Thursday, January 11, 2018-5:38 PM

जालन्धर(धवन): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने फतेहगढ़ साहिब में की गई घोषणा के बाद उन्होंने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिख कर राष्ट्रीय मार्ग 344-ए का नाम बदल कर माता गुजरी मार्ग रखने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने गत माह फतेहगढ़ साहिब में कहा था कि पटियाला से पनियाली (रोपड़-फगवाड़ पर स्थित) वाया सरहंद-फतेहगढ़ साहिब-बस्सी पठानां-मोरिंडा तक नए राष्ट्रीय मार्ग का नाम माता गुजरी मार्ग रखने बारे प्रस्ताव पहले ही राष्ट्रीय हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया को भेजा जा चुका है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि इस मार्ग बारे संभावित रिपोर्ट तथा विस्थारित प्रोजैक्ट रिपोर्ट (डी.पी.आर.) प्रक्रिया अधीन है जो जल्द ही मंत्रालय को सौंप दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि ऐतिहासिक कस्बे सरहंद, फतेहगढ़ साहिब तथा चमकौर साहिब इस राष्ट्रीय मार्ग पर स्थित हैं। जहां दशम पिता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के 4 साहिबजादों ने शहीदी दी थी। माता गुजरी जी सिख इतिहास में अपना अहम स्थान रखती हैं जिनको कुर्बानी व महान शहीदी के लिए याद किया जाता है।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने केंद्रीय मंत्री द्वारा राष्ट्रीय मार्ग 344-ए को गांव पनियाली से वाया बेला-चमकौर साहिब, मोरिंडा-सरङ्क्षहद तक पटियाला से जोडऩे हेतु सैद्धांतिक तौर पर किए गए ऐलान के लिए उनका आभार भी जताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार अपनी तरफ से उक्त मार्ग को माता गुजरी मार्ग में परिवर्तित करने के संबंध में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ पंजाबियों विशेष रूप से सिख समुदाय की धार्मिक भावनाएं जुड़ी हुई हैं इसलिए केंद्र की भाजपा सरकार को इस मामले में जल्द से जल्द फैसला लेना चाहिए।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन