• ढींडसा का हलका,नहीं बना शहीद ऊधम सिंह का यादगारी म्यूजियम
    ढींडसा का हलका,नहीं बना शहीद ऊधम सिंह का यादगारी म्यूजियम
  • संगरुरः पिछले लगभग 17 वर्ष से इस सीट पर शिरोमणि अकाली दल (शिअद) काबिज रही है। हालांकि इस सीट पर कांग्रेस ने भी 2 बार जीत दर्ज की है।  पिछले 4 चुनावों में वर्ष 2000 के उप चुनाव भी शामिल हैं, जिनमें परमिन्द्र सिंह ढींडसा निरंतर वहां से जीत प्राप्त करते आ रहे हैं। विधायक परमिंद्र सिंह ढींडसा जोकि पंजाब सरकार में वित्त मंत्री भी हैं, ने कहा कि जो वायदे सुनाम हलके के लोगों के साथ गत चुनावों में किए गए थे, वे पूरे किए हैं। 

    सुनाम के गल्र्ज स्कूल तथा कालेज के इंफ्रास्ट्रक्चर का कार्य हुआ है, सुनाम, लौंगोवाल व चीमा का 100 फीसदी वाटर सप्लाई सीवरेज का कार्य किया गया है, शहीद ऊधम सिंह मैमोरियल के लिए जगह ले ली गई है व टैंडर लग चुके हैं व फंड्ज जारी हो चुके हैं, गांवों में विकास के लिए करोड़ों रुपए की ग्रांटें दी गईं, सुनाम हलके के लिए लगभग 90 करोड़ की लागत का प्रोजैक्ट, लौंगोवाल गल्र्ज स्कूल की नई इमारत तथा बस स्टैंड के लिए कार्य किया गया। सुनाम में पानी की निकासी के लिए करोड़ों रुपए की लागत वाला प्रोजैक्ट लग रहा है। शहरों में अंदरूनी सड़कों-गलियों की नुहार बदलने का कार्य हुआ। चुनावों के समय किए वायदों से अधिक सुनाम हलके का विकास किया गया व वाटर ट्रीटमैंट प्लांट का कार्य किया गया।

    मुख्य मुद्दा
    सुनाम में बड़ा औद्योगिक यूनिट लगाने की मांग है ताकि नौजवानों को रोजगार मिल सके। फायर ब्रिगेड की मांग बहुत पुरानी है, शहीद ऊधम सिंह की यादगार से संबंधित म्यूजियम बनाना भी पुराना मामला है, साथ ही बेसहारा पशुओं के मसले का अभी तक हल नहीं निकला।

    वायदे जो किए
    वाटर ट्रीटमैंट प्लांट लगवाना
    फायर ब्रिगेड की स्थापना करना
    शहीद ऊधम सिंह म्यूजियम का निर्माण
    स्टॉर्म वाटर प्रोजैक्ट लगवाना
     सुनाम में 100 प्रतिशत सीवरेज, वाटर सप्लाई
    स्टेडियम को आधुनिक बनाना
    सुनाम कालेज में आधुनिक आडिटोरियम बनाना

    वायदे जो निभाए
    वाटर ट्रीटमैंट प्लांट का काम  जल्दी मुकम्मल होगा
    फायर ब्रिगेड के लिए अनुदान जारी 
    स्टॉर्म वाटर प्रोजैक्ट कार्य काउद्घाटन हुआ
    आडिटोरियम के लिए जरूरी फंड का प्रबंध हो चुका है
    अंदरूनी सड़कों का 90 फीसदी कार्य मुकम्मल


Political Memories