अवैध शराब पकडने गई पुलिस पर लोगों ने किया हमला

  • अवैध शराब पकडने गई पुलिस पर लोगों ने किया हमला
You Are HereGurdaspur
Sunday, January 14, 2018-10:52 AM

गुरदासपुर (विनोद): शराब का अवैध कारोबार करने वाले आरोपियों को पकडऩे गई एस.टी.एफ. पुलिस पर आरोपियों ने हमला कर एक सहायक सब-इंस्पैक्टर तथा एक पुलिस हवलदार को घायल कर दिया। दोनों को सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया है। तिब्बड़ पुलिस ने इस संबंधी विभिन्न धाराओं के अधीन केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी देते हुए एस.टी.एफ. गुरदासपुर की टीम की अगुवाई करने वाले तथा घायल हुए सहायक सब-इंस्पैक्टर जगतार सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि कुछ लोग गांव पाहड़ा में शराब का अवैध कारोबार करते हैं तथा अवैध शराब बनाने का काम भी करते हैं। इस सूचना के आधार पर वे गांव पाहड़ा के पुल पर पहुंचे तथा वहां खड़े 2 नौजवानों को कहा कि देसी शराब चाहिए। ये नौजवान जो स्कूटर लिए खड़े थे, ने स्कूटर से 2 बोतलें शराब दी तथा 400 रुपए ले लिए। 

पुलिस अधिकारी ने आरोपियों से कहा अधिक शराब मिल सकती है तो उन्होंने कहा कि जरूर मिलेगी तथा 200 रुपए प्रति बोतल मिलेगी। सि पर पुलिस पार्टी ने 1200 रुपए देकर 6 बोतलें शराब लाने को कहा तथा यह भी कहा कि उन्हें समारोह के लिए शराब चाहिए तथा बड़ी मात्रा में शराब खरीदनी है, जिस पर दोनों नौजवानों में से एक ने अपना नाम राज कुमार उर्फ राजू पुत्र करतार सिंह निवासी गांव गाजीकोट बताया तथा शराब लेने के लिए चले गए। जब वे शराब लेकर वापस आए तो उनके साथ किन्दर निवासी गांव पाहड़ा भी था जो शराब तैयार कर आगे बेचता है। जब पुलिस पार्टी ने तीनों आरोपियों पर काबू पा लिया तो इन लोगों ने शोर मचा दिया जिस पर किन्दर का भाई बंटी तथा मट नाम के नौजवान के साथ 20 से अधिक अज्ञात लोग वहां आ गए और उन पर पथराव कर दिया।

पथराव के कारण वह तथा हैड कांस्टेबल रंजीत सिंह घायल हो गए जबकि बाकी कर्मचारियों ने भाग कर जान बचाई। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि उनके साथियों ने उन्हें सिविल अस्पताल दाखिल करवाया तथा रंजीत सिंह के सिर पर 4 टांके लगे हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन