Subscribe Now!

स्वच्छता सर्वेक्षण का काम लगभग पूरा, 31 मार्च को होगा निगम के भाग्य का फैसला

  • स्वच्छता सर्वेक्षण का काम लगभग पूरा, 31 मार्च को होगा निगम के भाग्य का फैसला
You Are HereBathinda
Tuesday, January 23, 2018-9:55 AM

बठिंडा (विजय): देश भर में 4 जनवरी से स्वच्छता अभियान का बोलबाला चल रहा है। लगभग देश के सभी जिले व शहर इससे जुड़े हुए हैं, कुल 4,140 शहरों में यह अभियान चल रहा है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से जारी किया गया स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के तहत बठिंडा शहर में भी ‘कारवी’ कम्पनी द्वारा 16 जनवरी से यह सर्वेक्षण शुरू किया गया है। 31 मार्च को इसका रिजल्ट आएगा तब बठिंडा नगर निगम के भाग्य का फैसला होगा। 

इससे पहले नगर निगम बठिंडा ने देश भर में 132वां स्थान हासिल कर पंजाब में दूसरा स्थान हासिल किया था। जबकि पहला स्थान मोहाली को मिला था। उस समय कुछ कमियां रह गई थीं जिसे अब निगमायुक्त संयम अग्रवाल, एक्सियन जौड़ा, म्यूनिसिपिल इंजी. संजीव गुप्ता पूरा करने के लिए जी तोड़ प्रयास कर रहे हैं। कम्पनी के अधिकारी रणजीत राणा नगर निगम द्वारा भेजे गए सिटी प्लान के अनुसार ही सभी स्थलों का दौरा कर रहे हैं। उन्हें मौके पर ही मंत्रालया से निर्देश जारी होते हैं कि क्या करना है इससे पहले कुछ नहीं पता होता। वह सारी कार्रवाई व फोटोग्राफी को तुरंत शहरी विकास मंत्रालया की वैबसाइट पर अपलोड कर देते हैं जिसकी समीक्षा दिल्ली में बैठे अधिकारी कर रहे हैं। सर्वेक्षण टीम के अनुसार कुल 50 में से 39 वार्डों का ही सिटी प्लान में जिकर है अब तक 35 वार्ड मुकम्मल किए जा चुके हैं 4 वार्ड मंगलवार दोपहर 12 बजे तक कम्पलीट कर लिए जाएंगे। 

पंजाब भर में पहला दर्जा पाने के लिए नगर निगम अधिकारियों के हाथ-पांव फूले हुए हैं और वे शहर को साफ व सुंदर बनाने के लिए दिन-रात एक कर रहे हैं। सफाई का जिम्मा चीफ सैनेटरी इंस्पैक्टर सतीश के हाथ में है जिसको लगभग 375 सफाई कर्मियों की टीम दी हुई है जो पूरे बाजारों, गलियों व मोहल्लों में सफाई कर रहे हैं। राणा के अनुसार बारीकी से नगर निगम द्वारा किए गए सफाई अभियान को देखा जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बनाए गए शौचालय के अंदर-बाहर की सभी फोटोग्राफरी की गई जिसे मंत्रालया ने भी अच्छा कदम बताया। पैट्रोल पंपो पर बनाए गए पब्लिक शौचालय सुविधा की भी जांच की गई। सोमवार को सर्वेक्षण टीम ने अंबुजा फैक्टरी का दौरा कर जायजा लिया, वहां की सफाई देखकर टीम दंग रह गई। इसी तरह अस्पतालों में श्रेणी में दिल्ली हार्ट इंस्टीच्यूट, संजीवनी, ग्लोबल हैल्थ केयर, मैक्स सुपर स्पैशलिटी अस्पताल, जिंदल हार्ट इंस्टीच्यूट, छाबड़ा अस्पताल, नागपाल सुपर स्पैशलिटी अस्पताल, डा. गगनदीप अस्पताल का भी दौरा कर उन्हें दी गई 5 स्टार सुविधा की जांच की गई।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन